World Suicide Prevention Day 2021: हर 40 सेकेंड में एक व्यक्ति आत्महत्या कर रहा है



वेब ख़बरिस्तान। विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस हर साल 10 सितंबर को मनाया जाता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार हर 40 सेकेंड में एक व्यक्ति आत्महत्या कर रहा है।

तेजी से बढ़ती आत्महत्या की प्रवृत्ति पर रोक लगाना मकसद

इंटरनेशनल एसोसिएशन फॉर सुसाइड प्रिवेंशन विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस का आयोजन करती है। उद्देश्य विश्व में तेजी से बढ़ती आत्महत्या की प्रवृत्ति पर रोक लगाना है। बढ़ते अवसाद के कारण भी लोग आत्महत्या कर लेते हैं। पिछले कुछ सालों में भारत व दुनिया भर में खुदकुशी की घटनाएं तेजी से बढ़ी हैं।


हर साल 8 लाख लोग मौत को गले लगाते हैं

विश्व स्वास्थ्य संगठन यानि डब्ल्यूएचओ के मुताबिक़ हर साल लगभग 8 लाख से अधिक लोग विभिन्न कारणों के चलते मौत को गले लगा लेते हैं। ये स्थिति वैसे तो काफी डरावनी है और चिंता का विषय भी है। विश्व में 79 फीसद आत्महत्या निम्न और मध्यवर्ग वाले देशों के लोग करते हैं।



मानसिक तनाव से जूझ रहे लोग बना लेते हैं दूरी

कोई भी इंसान मानसिक तनाव से जूझ रहा होता है तो उसके व्यवहार में बदलाव देखा जा सकता है। ऐसे लोग और लोगों से दूरी बना लेते हैं। खासकर अकेलेपन के साथी हो जाते हैं। छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा, इसका एक उदाहरण हो सकता है।


इन तरीकों से करें बचाव

अवसाद से बचाव के लिए आप ज्यादा से ज्यादा लोगों के बीच रहें। अगर घर में कोई सदस्य इस समस्या से जूझ रहा है तो उस पर नकारात्मक प्रतिक्रिया ना दें। परिवार के साथ बैठकर परेशानी का हल निकालें। गुस्से पर काबू रखें और अपने आप को खुश रखने की कोशिश करें।

Related Links