50% भारतीय बिना फायदे के अनजान लोगों की परवाह नहीं करते, सोशल माइंडफुलनेस में जापान पहले स्थान पर

बेपरवाह होने के मामले में स्कोरिंग देखें तो भारतीयों की स्कोरिंग केवल 50% है

बेपरवाह होने के मामले में स्कोरिंग देखें तो भारतीयों की स्कोरिंग केवल 50% है



व्यक्तिगत लाभ शामिल न हो तब तक हम अनजान लोगों की कम ही चिंता करते हैं

वेब ख़बरिस्तान। सड़क चलते कार का शीशा उतार कर केले का छिलका फेंकना हो या फिर बिस्किट-चॉकलेट के रैपर, हम भारतीय इस काम में देरी नहीं करते। इस उदाहरण से आपको समझ आ गया होगा कि हम बात कर रहे हैं हम भारतियों का सोशल व्यवहार क्या है। जब तक हमारा कोई व्यक्तिगत लाभ शामिल न हो तब तक हम अनजान लोगों की कम ही चिंता करते हैं। इसे दूसरे शब्दों में सोशल माइंडफुलनेस भी कहते हैं।

अमेरिकी संस्था ने की है स्टडी


बेपरवाह होने के मामले में स्कोरिंग देखें तो भारतीयों की स्कोरिंग केवल 50% है। 31 देशों में सोशल व्यवहार को लेकर एक अमेरिकी संस्था ने स्टडी की है। प्रोसिडिंग्स ऑफ द नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज जर्नल में पिछले हफ्ते पब्लिश हुई रिसर्च के अनुसार सोशल माइंडफुलनेस के मामले में जापान का स्कोर 72 फीसदी है। यानि वो बिना किसी फायदे के भी 72% मुद्दों पर अनजान के बारे में सोचते हैं। इस मामले में ऑस्ट्रियाई दूसरे नंबर पर हैं। उन्होंने 69% मामलों पर सोशल माइंडफुलनेस दिखाई। तीसरे नंबर पर मेक्सिकन रहे जिनकी स्कोरिंग 68% थी। इस लिस्ट में नीचे के देशों को देखें तो इंडोनेशिया 46% के साथ सबसे नीचे के पायदान पर है, इसके बाद तुर्की 47% के साथ है और भारत नीचे से तीसरे स्थान पर 50% स्कोरिंग के साथ कायम है।

इंटरनेशनल टीम ने प्रोजेक्ट के लिए की रिसर्च

65 रिसर्चर्स की एक इंटरनेशनल टीम ने एक प्रोजेक्ट के लिए कंट्री लेवल पर सोशल व्यवहार को लेकर एक स्टडी की है। रिसर्चर्स ने स्टडी में शामिल 8,354 वॉलंटियर्स के लिए 12 हाइपोथेटिकल चॉइस (काल्पनिक विकल्प) तैयार किए।

Related Links