हेल्दी लाइफ के लिए खाएं नीम की पत्तियां



इम्यून सिस्टम होता है बेहतर, हार्ट और लीवर भी रहता है दुरूस्त

वेब ख़बरिस्तान। नीम की पत्तियां खाने में थोड़ी कड़वी जरूर होती है, लेकिन यह हमारी हेल्थ को बहुत से बेनेफिट्स देने का काम करती है। नीम की पतियों को किसी भी मौसम में खाया जा सकता है। यह हमारी सेहत के लिए रामबाण का काम करती है। नीम की पत्तियां इम्यून सिस्टम को स्ट्रोंग बनाने से लेकर हार्ट और लीवर को हेल्दी रखने में हेल्प करती है, मगर इसके कड़वे स्वाद की वजह से हम इसको खाना अवॉयड करते हैं। आपको बता दें, आयुर्वेद के अनुसार रोज सुबह खाली पेट नीम की पत्तियां खाने से बॉडी का इम्यून सिस्टम स्ट्रोंग होता है साथ ही यह फिजिकल डिसऑर्डर को ठीक करने में हेल्प करता है।

इम्युनिटी पॉवर को करती है स्ट्रोंग

आज कल की लाइफस्टाइल में हमारा इम्यून सिस्टम काफी बिगड़ा हुआ है जिसके चलते बहुत सी बीमारियाँ लग रही हैं। इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाने के लिए आप नीम की पत्तियों का सेवन जरूर करें। नीम में एंटीऑक्सीडेंट गुण पाया जाता है। जो इम्युनिटी को स्ट्रोंग करने में बहुत पावरफुल है। इसके अलावा नीम एंटी बैक्टीरियल भी है जो इस मौसम में काफी लाभ देता है।

दांतों के बहुत ही लाभदायक

एक शोध के मुताबिक नीम दांतों के लिए मेडिसिन का काम करता है। दांतों में अगर दर्द हो, तो नीम की दातुन करने से आराम तो मिलता ही है साथ दांत चमकदार भी होते हैं। आज कल के खानपान से दांतों में कीड़ा लगना बहुत ही आम प्रॉब्लम है। इस प्रॉब्लम से निजात पाने के लिए नीम की दातुन करने से कीड़ा निकल जाता है। नीम दातों के लिए माउथ फ्रेशनर का काम भी करती है।

पेट को दुरूस्त बनाता है


अगर आपका digestive सिस्टम ठीक नहीं रहता है। हर समय पेट में जलन, कब्ज और गैस की प्रॉब्लम होती है, तो उसके लिए रोज सुबह खाली पेट नीम की पत्तियों का सेवन करना शुरू कर दें। नीम पेट के toxins को बाहर निकाल कर पेट को दुरूस्त करता है और digestive सिस्टम को और ज्यादा बेहतर बनता है।

स्किन प्रोब्लेम्स को ठीक करता है

टीनएज में आने के बाद लड़कियों के फेस पर काले धब्बे और मुहासें निकलने लग जाते है। जिसके कारण फेस dull लगना शुरू हो जाता है। लेकिन अगर आप नीम की पत्तियों का पेस्ट बना कर फेस पर लगायेंगे, तो बहुत जल्दी आराम मिलेगा। नीम में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इन्फ्लेटरी गुण होता है, जो स्किन को एजिंग और मुहांसों की समस्या से निजात दिलाता है।

इस मौसम में जरूर खाएं नीम की पत्तियां

सालों से आयुर्वेद में नीम को एक औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता रहा है। आपको बता दें, नीम का सबसे ज्यादा इस्तेमाल चैत्र के मौसम में किया जाता है, क्योंकि इस मौसम में बैक्टीरियल इन्फेक्शन होने का खतरा ज्यादा होता है। यदि आप नीम की पत्तियां डायरेक्टली नहीं खा पाते हैं, तो आप नीम की पत्तियों की चटनी बना कर खाने के साथ ले सकते हैं।

चटनी कैसे बनाये

नीम की 10 पत्तियां लेकर पीस लें। इसमें 2 बड़े चम्मच गुड़ ऐड करें। फ्राइंग पैन में थोडा सा घी डाल कर उसको गरम कर लें फिर चुटकी भर जीरा डालें। अब नीम और गुड़ के पेस्ट को इसमें ऐड कर दें और 10 मिनट के लिए पकने दें। चटनी बन कर तैयार हैं।

इस ख़बर में दी गयी जानकारी आपको जागरूकता मात्र के लिए दी गयी है। अगर आप ऊपर बताई गयी बिमारियों से ग्रस्त हैं तो आप अपने डॉक्टर से जरूर सम्पर्क करें।

Related Links