पश्चिम बंगाल में 14 महीने बाद ममता बनर्जी कैबिनेट का दूसरी बार विस्तार:पूर्व भाजपा सांसद बाबुल भी बने मंत्री

ममता परफॉर्मेंस के आधार पर 3-4 मंत्रियों को हटा सकती हैं

ममता परफॉर्मेंस के आधार पर 3-4 मंत्रियों को हटा सकती हैं



राजभवन में राज्यपाल एल गणेशन ने 9 नए मंत्रियों को शपथ दिलाई।

वेब खबरिस्तान, कोलकाता। पश्चिम बंगाल में 14 महीने बाद आज ममता बनर्जी कैबिनेट का दूसरी बार विस्तार किया गया। राजभवन में राज्यपाल एल गणेशन ने 9 नए मंत्रियों को शपथ दिलाई। इनमें 7 कैबिनेट और 2 मंत्री स्वतंत्र प्रभार हैं। ममता ने विधानसभा चुनाव के बाद सितंबर 2021 में भाजपा छोड़ तृणमूल में आए पूर्व सांसद बाबुल सुप्रियो को भी मंंत्री बनाया है।

कैबिनेट मिनिस्टर: बाबुल सुप्रियो, स्नेहाशीष चक्रबर्ती, पार्थ भौमिक, उदयन गुहा, प्रदीप मजूमदार, तजमुल हुसैन, सत्यजीत बर्मन।


मंत्री स्वतंत्र प्रभार: बीरबाहा हंसदा, बिप्लब रॉय चौधरी।

3-4 मंत्रियों का कटेगा पत्ता

ममता परफॉर्मेंस के आधार पर 3-4 मंत्रियों को हटा सकती हैं। खबरें हैं कि इन सभी को संगठन के कामकाज में लगाया जाएगा। सूत्रों के अनुसार जिन मंत्रियों को हटाने की चर्चा है उनमें सोमेन महापात्रा, परेश अधिकारी, चंद्रकांत सिंह और मलय घटक का नाम है।

सोमवार को कैबिनेट बैठक के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा था कि सुब्रत मुखर्जी, साधन पांडे के निधन और पार्थ के जेल जाने से सरकार के कामकाज प्रभावित हो रहा है। इसलिए कैबिनेट विस्तार किया जाएगा। ममता के इस बयान के कुछ देर बाद ही तृणमूल जिला संगठन में बड़ा बदलाव किया गया था।

Related Tags


mamata banerjee babul supriyo tmc mamata banerjee cabinet west bengal cabinet

Related Links