मंडी में मुसीबत: चंडीगढ़- मनाली एनएच का संपर्क पूरी तरह से कटा, जिले भर में 50 सड़कें बंद



मंडी जिले में लगातार हो रही मूसलाधार बारिश के कारण लोगों के घरों में पानी घुस गया है, नदी नाले उफान पर हैं, सड़कों पर यातयात भी प्रभावित हो रहा है

वेब ख़बरिस्तान, मंडी। मंडी में रविवार देर रात से मूसलाधार बारिश के कारण चंडीगढ़ मनाली एनएच का संपर्क पूरी तरह से कट गया है। सात मील के पास भारी भूस्खलन से मार्ग बंद पड़ा है। पहाड़ियों से गिर रहे मलबे की चपेट में आने से एक वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गया है। हालांकि वाहन में सवार सभी लोग सुरक्षित बताए जा रहे हैं। वहीं वैकल्पिक कमांद बजौर मार्ग भी ठप है। बारिश के कहर से जिलेभर में पचास के करीब रास्ते बंद पड़े हैं। सरकाघाट-धर्मपुर एनएच पर भी पहिए थम गए हैं। नदी-नाले भी उफान पर हैं। प्रशासन ने नदी नालों के किनारे बसे लोगों को सुरक्षित स्थान पर जाने की हिदायत दी है।


डीसी मंडी अरिंदम चौधरी ने सड़कों के बंद होने की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि प्रभावित सड़कों को ठीक करने के लिए मशीनरी व लेबर तैनात किए गए हैं। लेकिन भारी बारिश के चलते कार्य में बाधा आ रही है।

वहीं, दूसरी ओर कांगड़ा में भी बारिश से एक बार फिर जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। कई जगहों से भूस्खलन की खबरें आ रही हैं और इसी के कारण से पालमपुर-सुजानपुर हाईवे भाटिलु में बाधित हो गया है। देहरा-होशियारपुर (एनएच-503) सड़क व्यास पुल के निकट पहाड़ी का मलबा गिरने के कारण बंद हो गई है। पिछले दो-तीन घंटे से एनएच पर जाम लगा हुआ है। पालमपुर में भारी बारिश के चलते पालमपुर-धर्मशाला वाया नगरी रोड बंद हो गया है। इस रोड पर यातायात सुबह चार बजे से प्रभावित है।

पालमपुर व धर्मशाला आने जाने वाली बसें अब लतवाला होते हुए जा रही हैं। लोगों को इस कारण काफी परेशानी हो रही है। लंज गगल धर्मशाला रोड दो तीन जगहों पर बंद होने की जानकारी आ रही है। बरोट घटासनी, बरोट लोहारडी, बरोट मियोट मुलथान, कोठी कोढ बोचीग रोलीग, सड़कें बंद हो गई हैं।

Related Links