पटना  के Vishveshwarya Bhawan में लगी भीषण आग, शोभा अहोतकर ने लोकल थाना पुलिस पर लगाए ये आरोप

पटना  के Vishveshwarya Bhawan में लगी भीषण आग

पटना  के Vishveshwarya Bhawan में लगी भीषण आग



काम करने वालों के दो बच्चे अंदर फंसे हुए थे, उन्हें सुरक्षित निकाला गया बाहरः जिलाधिकारी चंद्र शेखर सिंह

वेब ख़बरिस्तान। राजधानी पटना के विश्‍वेश्‍वरैया भवन में बुधवार की सुबह अचानक भीषण आग लग गई। सूचना मिलने के बाद अग्निशमन डीजी शोभा अहोतकर खुद घटनास्थल पर पहुंचीं। इस बीच उन्होंने ऐसा बयान दिया कि पटना के एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो उसका जवाब तक नहीं दे पाए। शोभा अहोतकर ने लोकल थाना पुलिस पर गंभीर आरोप लगाया।


विश्वेश्वरैया भवन पहुंचीं शोभा अहोतकर ने कहा कि आग पर काबू पाने के लिए हम लोग अपना करने में लगे हैं। भीड़ ज्यादा इकट्ठा हो गई है। लॉ एंड ऑर्डर संभालना क्या हम लोगों की ड्यूटी है? यहां भीड़ को नियंत्रण भी हम ही लोग कर रहे हैं। लोकल थाने की कोई भी पुलिस यहां नहीं पहुंची है। जिस तरह की भीड़ है कोई भी बड़ा हादसा हो सकता है। ऐसे में लोकल थाने को जिम्मेदारी बनती है कि यहां मौजूद रहे। शोभा अहोतकर ने कहा कि निश्चित तौर पर जब हमें सूचना मिली है तो लोकल थाने की पुलिस को भी मिली होगी।

एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो ने क्या कहा?

इस तरह के लगे आरोपों को लेकर एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो ने कहा वह इस पर कोई टिप्पणी नहीं कर सकते हैं। कहा कि यहां सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। देखा जा सकता है कि यहां लोकल थाना की पुलिस है या नहीं। उन्होंने कहा कि एनडीआरएफ की टीम भी बुलाई गई है। उनके पास कई तरह के यंत्र होते हैं।

जिलाधिकारी चंद्र शेखर सिंह ने बताया कि प्रथम दृष्टया से यह पता चल रहा है कि शॉर्ट सर्किट से आग लगी है। सातवें फ्लोर पर काम लगा हुआ था। काम करने वालों के दो बच्चे थे जो फंसे हुए थे। उन्हें सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। भवन काफी पुराना है और यहां बिजली वायरिंग जर्जर है जिस पर भी काम हो रहा है। आगे जांच का विषय है कि कैसे क्या हुआ है।

Related Links