नहीं होगी वापस अग्निपथ योजना, तीनों सेनाओं की तरफ से दी गई जानकारी, योजना के तहत होगी भर्तियां

तीनों सेना प्रमुखों ने पत्रकारों को संबोधित किया।

तीनों सेना प्रमुखों ने पत्रकारों को संबोधित किया।



इस सुधार के साथ देश की तीनों सेनाओं में युवावस्था और अनुभव का अच्छा मिश्रण लाना चाहते

खबरिस्तान नेटवर्क। अग्निपथ योजना के विरोध को देखते तीनों सेनाओं की तरफ से संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस की गई। इसमें सेना प्रमुख ने कहा कि सारी भर्तियां अब अग्निपथ योजना से ही होंगी। सेना प्रमुखों ने अग्निपथ स्कीम को वापस लेने की किसी भी संभावना से सेना ने इनकार किया है।  

सचिव लेफ्टिनेंट जनरल अनिल पूरी ने बताया कि यह सुधार लंबे समय से रुका हुआ था। हम इस सुधार के साथ देश की तीनों सेनाओं में युवावस्था और अनुभव का अच्छा मिश्रण लाना चाहते हैं। इस के साथ ही  हिंसा और प्रदर्शन में हिस्सा लेने वाले युवाओं के लिए सेना में कोई जगह नहीं। 

अग्निवीरों के साथ कोई भेद-भाव नहीं


अनिल पुरी ने कहा कहा कि 'अग्निवीरों' को सियाचिन और अन्य क्षेत्रों  में वही भत्ता मिलेगा जो बाकि  सैनिकों पर लागू होता है। सेवा शर्तों में उनके साथ कोई भेदभाव नहीं होगा। जो कपड़े सेना के जवान पहनते हैं वहीं कपड़े अग्निवीर पहनेंगे, जिस लंगर में सेना के जवान खाना खाते हैं वहीं पर अग्निवीर खाएंगे। जहां पर सेना के जवान रहते हैं वहीं पर अग्निवीर ही रहेंगे।

सेना को चाहिए जोश और होश का कॉन्म्बिनेशन 

तीनों सेनाओं की इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया गया कि, हमें यूथफुल प्रोफाइल चाहिए। आप सभी को पता है कि 2030 में हमारे देश में 50 फीसदी लोग 25 साल की उम्र से कम होंगे। क्या ये अच्छा लगता है कि देश की सेना जो रक्षा कर रही है वो 32 साल की हो। हमारी कोशिश है कि हम किसी तरह से यंग हो जाएं।

इस बारे में कई लोगों से बातचीत की गई, बाहरी देशों की भी स्टडी की गई। सभी देशों में देखा गया कि उम्र 26, 27 और 28 साल थी। भर्ती होने के तीन से चार तरीके हैं। सभी में कोई भी कभी भी बाहर निकल सकते हैं। उन देशों में भी वही चुनौतियां हैं जो हमारे यूथ के सामने हैं।

Related Tags


agnipath agnipathscheme agnipath scheme information

Related Links



webkhabristan