परेड के बाद सैकड़ों लोग लापता, कैप्टन ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर

cm amrendar singh

गणतंत्र दिवस के बाद से दिल्ली-हरियाणा में लापता व्यक्तियों की हो रही तलाश

वेब खबरिस्तानः 26 जनवरी गणतंत्र दिवस वाले दिन किसानों ने ट्रैक्टर परेड निकाली। ट्रैक्टर परेड के बाद से दिल्ली और हरियाणा में पंजाब के 100 से अधिक लोगों के लापता होने की जानकारी मिली थी। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने लापता लोगों की जानकारी देने के लिए हेल्पलाइन नंबर 112 की घोषणा कर दी है। मुख्यमंत्री के आदेश पर राज्य के एडवोकेट जनरल की ओर से 70 वकील नियुकत किए गए हैं ताकि दिल्ली में मामलों का सामना कर रहे किसानों को मुफ्त कानूनी सहायता दी जा सके।  

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने लापता व्यक्तियों को ढूंढ़ने के लिए सरकार की ओर से हर संभव मदद देने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि उनके मंत्रिमंडल के सहयोगियों ने इस मुद्दे पर केंद्रीय गृह मंत्री से मुलाकात की थी। उन्होंने लापता व्यक्तियों के बारे में केंद्रीय गृह मंत्रालय से व्यक्तिगत रूप से संपर्क किया था।

हमारा दिल दिल्ली में प्रदर्शन कर रहे किसानों के साथ

मुख्यमंत्री ने कहा, “हमारा दिल दिल्ली की सीमाओं पर अपने अधिकारों के लिए लड़ने वाले किसानों के साथ है।” उन्होंने ट्रैक्टर रैली के दौरान किसी भी लापता हुए किसी भी व्यक्ति, यहां तक कि जिन के संबंध में केस भी दर्ज नहीं हुआ, को तुरंत 112 नंबर डायल करने की अपील की। विभिन्न गांवों के सरपंचों ने आज यहां एक आभासी समारोह के दौरान इस मुद्दे पर अपनी चिंता व्यक्त की। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा, “हम लापता व्यक्तियों को खोजने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे। हम उनकी और उनके घरों की जानकारी इकट्ठा करने की कोशिश कर रहे हैं।

सुनील जाखड़ ने भी की अपील

पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने मुख्यमंत्री से अपील की थी कि दिल्ली में कानूनी मामलों का सामना कर रहे किसानों की मदद की जाए। महाधिवक्ता अतुल नंदा को पहले ही भुगतान करने का आदेश दिया जा चुका है।

नंदा ने बाद में खुलासा किया कि उन्होंने किसानों को कानूनी सहायता देने के लिए 70 वकीलों की एक टीम बनाई थी, जिनके खिलाफ दिल्ली पुलिस ने गणतंत्र दिवस की हिंसा के संबंध में मामले दर्ज किए हैं। पता चला है कि दिल्ली पुलिस ने उत्तर प्रदेश, हरियाणा और पंजाब से लगभग 89 लोगों को गिरफ्तार किया है और हिंसा के सिलसिले में 38 एफआईआर दर्ज की हैं।

मुख्यमंत्री ने रविवार को संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा जारी एक बयान के संदर्भ में निर्देश दिया और अपील की, जिसमें मोर्चा ने कहा था कि गणतंत्र दिवस के मौके पर दिल्ली में ट्रैक्टर परेड हिंसा के बाद से 100 से अधिक व्यक्ति लापता थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here