ब्रेकिंग - अकाली नेता बिक्रम मजीठिया को मिली अग्रिम जमानत

मजीठिया को ड्रग्स मामले में हाईकोर्ट से अग्रिम जमानत मिल गयी है।

मजीठिया को ड्रग्स मामले में हाईकोर्ट से अग्रिम जमानत मिल गयी है।



ड्रग्स मामले में अग्रिम जमानत मिल गयी है

वेब ख़बरिस्तान,जालंधर। अकाली दल के नेता बिक्रम मजीठिया को ड्रग्स मामले में हाईकोर्ट से अग्रिम जमानत मिल गयी है। पंजाब व हरियाणा हाईकोर्ट ने सोमवार को मामले की सुनवाई करते हुए यह आदेश दिए। बुधवार को 11 बजे बिक्रम मजीठिया इन्वेस्टिगेशन जॉइन करेंगे। हाईकोर्ट ने साफ कर दिया है कि इस दौरान पंजाब पुलिस उन्हें गिरफ्तार नहीं करेगी। मामले की अगली सुनवाई 18 जनवरी को होगी।


इससे पहले 5 जून को हाईकोर्ट में मजीठिया की अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई हुई और इस सुनवाई में हाईकोर्ट ने पंजाब सरकार को नोटिस जारी किया है। सरकार को 8 जनवरी तक इस नोटिस का जवाब देना होगा जिसके बाद इस याचिका पर अगली सुनवाई 10 जनवरी को होगी। आपको बता दें कि ड्रग्स मामले को लेकर मजीठिया को गिरफ्तार करने के आदेश दिए गए थे। इसके बाद से मजीठिया फरार है और पुलिस के हाथ नहीं लगे है।

मजीठिया पर लगे आरोपों की जांच के लिए कस्टडी में इंटेरोगेशन जरूरी

इससे पहले मजीठिया ने मोहाली कोर्ट से अग्रिम जमानत मांगी थी, जिसे सैशन कोर्ट ने यह कहते हुए खारिज कर दिया कि मजीठिया पर लगे आरोपों की जांच के लिए कस्टडी में इंटेरोगेशन जरूरी है। यह भी सामने आ रहा है कि पंजाब सरकार मजीठिया पर गैंगस्टरों से संबंधों को लेकर एक और केस दर्ज कर सकती है। ड्रग्स केस में मजीठिया पर गंभीर आरोप लगाए कि कनाडा के रहने वाले ड्रग तस्कर सतप्रीत सत्ता मजीठिया की अमृतसर और चंडीगढ़ स्थित सरकारी कोठी में भी ठहरते रहे। यहां तक कि मजीठिया ने उसे गाड़ी और गनमैन दे रखा था। मजीठिया को चुनाव के लिए नशा तस्करों से फंड लेने के साथ दबाव डालकर नशा दिलवाने और समझौते करवाने का आरोपी बनाया गया है। हालांकि अकाली दल इसे राजनीतिक बदलाखोरी की कार्रवाई करार देता रहा।

Related Links