खुलासा : कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने पंजाब विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए शराब करोबारी से लिया 25 लाख का कर्जा

कैप्टेन अमरिंदर सिंह को पंजाब विधानसभा चुनावों में हार का सामना करना पड़ा

कैप्टेन अमरिंदर सिंह को पंजाब विधानसभा चुनावों में हार का सामना करना पड़ा



कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा लड़े गए विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ

वेब खबरिस्तान। पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा लड़े गए विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है। कांग्रेस पार्टी से अलग होकर पंजाब लोक कांग्रेस पार्टी बनाने वाले कैप्टन अमरिंदर सिंह के पास पंजाब विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए पैसे नहीं थे। इसी कारण पंजाब में अपना दबदबा दिखाने वाले पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को चुनाव लड़ने के लिए एक शराब कारोबारी से 25 लाख रुपये तक का कर्ज लेना पड़ा।एक शराब कारोबारी से कर्ज लेने के बाद ही अमरिंदर सिंह अपने चुनावी खर्च को पूरा करने में सफल रहे और कर्जे लेकर ही वे अदायगी कर पाए। यह भी पहली बार है कि कैप्टन अमरिंदर सिंह को विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए किसी ने एक पैसा भी नहीं दिया है, जिससे उन्हें कर्ज के लिए मजबूर होना पड़ा है।

शराब कारोबारी ने दिए 25 लाख रूपए 


कैप्टन अमरिंदर सिंह को पटियाला विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने के लिए दुर्लाभ सिंह गरचा नाम के शराब कारोबारी से 25 लाख रुपये तक का कर्ज लेना पड़ा था। दुर्लाभ सिंह गरचा द्वारा यह कर्जा चेक द्वारा दिया गया । अमरिंदर सिंह ने पटियाला विधानसभा सीट से 39 लाख 67 हजार 36 रुपये खर्च किए थे। अमरिंदर सिंह के पास सिर्फ 15 लाख 25 हजार रुपये थे, जिससे उन्हें कर्ज लेना पड़ा और 39 लाख 67 हजार 36 रुपये के इस खर्च को पूरा करने के लिए केवल 25 लाख रुपये की ऋण राशि का इस्तेमाल किया गया।

कैप्टेन अमरिंदर सिंह को पंजाब विधानसभा चुनावों में हार का सामना करना पड़ा। कांग्रेस के दिग्गज लीडरों में शामिल कैप्टेन अमरिंदर सिंह 2 बार पंजाब के मुख्यमंत्री रहे। किसी समय पर पंजाब में उनका सिक्का बोलता था। 

Related Links