नशे में 16 साल के लड़के को लगाया इंजेक्शन, मौत, डॉक्टर पर गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज

परिजन ने अस्पताल में खूब हंगामा किया और उन्होंने डॉक्टर के साथ मारपीट की

परिजन ने अस्पताल में खूब हंगामा किया और उन्होंने डॉक्टर के साथ मारपीट की



डॉक्टर की लापरवाही के कारण 16 वर्षीय वंश की मृत्यु हो गई थी

वेब ख़बरिस्तान, जालंधर। लिंक रोड स्थित गार्डियन अस्पताल में डॉक्टर की लापरवाही के कारण 16 वर्षीय वंश की मृत्यु हो गई थी। शराब के नशे में एक डॉक्टर 16 साल के लड़के का इलाज करने लगा। डॉक्टर के इंजेक्शन लगाने के कुछ देर बाद लड़के की मौत हो गई। इसके बाद परिजन ने अस्पताल में खूब हंगामा किया और उन्होंने डॉक्टर के साथ मारपीट की। वहीं सड़क भी जाम कर दी थी। विवाद बढ़ने पर पुलिस ने डॉक्टर की मेडिकल जांच कराई तो शराब पीने की पुष्टि हो गई। अब आरोपी डॉक्टर जितेंद्र सिंह के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज कर लिया गया है।

वंश का स्कूल बस से हो गया था एक्सीडेंट


मुकेरियां के रहने वाले चंदर ने बताया कि 16 साल के बेटे वंश का स्कूल बस से एक्सीडेंट हो गया था। इलाज के लिए मुकेरियां से रेफर कर दिया गया। उसकी पसलियों में चोट लगी थी। करीब साढ़े 6 बजे उसे इलाज के लिए भर्ती किया गया। इस दौरान डॉक्टर ने उसे इंजेक्शन लगाया। करीब सात बजे वंश ने दम तोड़ दिया। जब वो डॉक्टर से पूछने गए तो देखा कि वह नशे में धुत था। इससे परिजन भड़क उठे। उन्होंने आरोप लगाया कि डॉक्टर ने नशे में गलत इंजेक्शन लगा दिया। उन्होंने डॉक्टर को बाहर निकालकर उसकी पिटाई शुरू कर दी।

पुलिस ने डॉक्टर को हिरासत में लिया

हंगामे की सूचना मिलने के बाद थाना डिवीजन 6 की पुलिस वहां आई। पुलिस डॉक्टर को पकड़कर ले गई। उसका सिविल अस्पताल में मेडिकल करवाया गया। जहां उसके नशे में होने की पुष्टि हो गई। थाना 6 के एसएचओ सुरजीत सिंह ने कहा कि डॉक्टर के खिलाफ धारा 304 आईपीसी के तहत केस दर्ज कर लिया गया है।

Related Links