'सरकारी घर' छोड़ने के मूड में नहीं पंजाब के पूर्व मंत्री और विधायक,मतदान जीतने वाले विधायक घूम रहे इधर उधर

सरकारी कोठी खाली करने का नोटिस भेजा गया था

सरकारी कोठी खाली करने का नोटिस भेजा गया था



पंजाब के पूर्व विधायक और मंत्री सरकारी घरों को छोड़ने के मूड में नहीं

वेब खबरिस्तान, चंडीगढ़: लगता है पंजाब के पूर्व विधायक और मंत्री सरकारी घरों को छोड़ने के मूड में नहीं हैं। इसीलिए तो सरकार द्वारा नोटिस मिलने के बावजूद भी बहुत से विधायक और मंत्री सरकारी कोठियां खाली नहीं कर रहे हैं। जबकि इसके उलट मतदान जीतने वाले आम आदमी पार्टी के विधायक इधर-उधर फिर रहे हैं और कईयों को अभी सरकारी फ्लैटों में पैर डालने का मौका ही नहीं मिला है।


बीते सप्ताह 9 पूर्व विधायकों ने सरकारी फ्लैट खाली किए थे। इस दौरान पंजाब की पूर्व मुख्यमंत्री राजिन्दर कौर भट्ठल से भी सरकारी कोठी खाली करवाई गई थी। पंजाब विधान सभा के स्पीकर कुलतार सिंह संधवा का कहना है कि जिन पूर्व विधायकों का सरकारी फ्लैटों पर अब तक कोई हक नहीं रहा है उनकी खुद जिम्मेदारी बनती है कि वह फ्लैट खाली कर दें। उन्होंने कहा कि पूर्व विधायक जिम्मेदार हस्तियां हैं जिस कारण उनको उम्मीद है कि वह जल्दी फ्लैट खाली कर देंगे।

सरकारिया ने कहा नोटिस नहीं मिला 

पूर्व मंत्री सुखबिन्दर सिंह सरकारीया  को भी सरकारी कोठी खाली करने के लिए कहा गया है परन्तु उनका कहना है कि अभी तक उनको कोई नोटिस नहीं मिला है। इस तरह डेढ़ दर्जन पूर्व विधायक सरकारी फ्लैट नहीं छोड़ रहे हैं। सरकार की तरफ से पिछले दिनों पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और अकाली नेता बिक्रम मजीठिया को भी सरकारी कोठी खाली करने का नोटिस भेजा गया था। 

Related Links