संतोखपुरा में शरारती तत्वों ने घर में घुसकर की मारपीट

रोष जताते लोग

रोष जताते लोग



एक महिला को लगी चोटें, लोगों ने सड़क जाम कर लगाया धरना

चाहत शर्मा जालंधरः संतोखपुरा में शरारती तत्वों ने एक घर में घुसकर मारपीट की, जिससे एक महिला को चोटें भी आई, जब बाहर से आई उसी घर की एक महिला ने मारपीट का मंजर देखा तो उसने शोर मचा दिया, जिससे शरारती तत्व भागे निकले। शरारती तत्वों में 2 युवक और 2 महिला शामिल थी। मारपीट का शिकार हुए परिवार ने लम्बा पिंड चौंक की तरफ जाने वाली सड़क पर धरना लगाकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। उन्होंने कहा कि हमारे साथ जिन लोगों ने मारपीट की है। उन्होंने 2 महीने पहले हमारे लड़के भी जान से मारा है। हमारा लड़का घर में ही था और शरारती तत्व फेरी के बहाने उशे घर से ले गए और दिल्ली में ले जाकर मार दिया और बाद में खुद गुमशुदा की दिल्ली थाने में रिर्पोट लिखा दी थी।


प्रदर्शनकारियों ने कहा कि हमारे लड़के का नाम जोरा है और वह 28 साल का है। उसको फेरी लगाने के बहाने घर से लेजाया गया था, जो अभी तक वापस नहीं आया और जो लोग उसको लेकर गए थे उन्होंने हमसे आकर कहा कि वह लापता हो गया है और वह मिल नहीं रहा, जिसकी हमने लापता की रिर्पोट दिल्ली में लिखा दी है, पर हमें नहीं लगता की वह लापता है उसे मार दिया गया है और खुद ही दिल्ली में रिर्पोट लिखा दी है, जब हम अपने लड़के की लापता की शिकायत करने जालंधर थाना-8 में जाते है तो वहां की पुलिस आगे से कह देती है कि दिल्ली में वारदात हुई है दिल्ली जाकर शिकायत करवाओ यहां पर नहीं होगी। प्रदर्शनकारियों ने मांग की कि हमें इंसाफ मिलना चाहिए और जो लड़के हमारे लड़के को फेरी के बहाने लेकर गए थे उन पर कार्रवाई होनी चाहिए। उन पर मामला दर्ज होना चाहिए। थाना प्रभारी मुकेश कुमार ने बताया कि यहां पर मामला दर्ज नहीं हो सकता, जहां पर वारदात हुई है वहां पर ही मामला दर्ज होगा।

Related Links