Mohali Blast : सीएम भगवंत मान ने दिए ये आदेश, पुलिस ने आरोपियों को किया गिरफ्तार, जांच में हुआ ये बड़ा खुलासा

Mohali Blast : सीएम भगवंत मान ने दिए ये आदेश

Mohali Blast : सीएम भगवंत मान ने दिए ये आदेश



सी.एम. मान ने कहा कि दोषियों की जड़ों तक पहुंचा जाएगा। दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी

वेब ख़बरिस्तान। मोहाली धमाके के बाद सी.एम. आवास में मुख्यमंत्री भगवंत मान ने डी.जी.पी. व अन्य बड़े अधिकारियों के साथ हाई लेवल बैठक की है। बैठक दौरान उन्होंने पूरी घटना का जायजा लिया और पंजाब का माहौल खराब करने वालों पर सख्त एक्शन लेने की बात कही। ये तो स्पष्ट हो चुका है कि हमला आर.पी.जी. से किया गया लेकिन एक और बड़ा खुलासा ये हुआ है कि आर.पी.जी. ड्रोन के ज़रिए ही भारत में सीमा पार से पहुंचाया गया। हालांकि इस मामले में अधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं है।

दोषियों को कड़ी सजा दी जाएगी, उनकी आने वाली पीढ़ियां याद रख सकेंः भगवंत मान

सी.एम. आवास मीटिंग करने बाद मुख्यमंत्री भगवंत मान ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि पंजाब का भाईचारा मजबूत है जिसे खराब करने की कोशिश की गई है। मोहाली में हुए ब्लास्ट की जांच पुलिस बारीकी से कर रही है। उन्होंने कहा कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि कुछ गिरफ्तारियां कर ली गई है और कुछ कर ली जाएंगी, शाम तक काफी कुछ साफ हो जाएगा। सी.एम. मान ने कहा कि दोषियों की जड़ों तक पहुंचा जाएगा। दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी ताकि उनकी आने वाली पीढ़ियां याद रख सकें की उन्होंने हंसते-बसदे पंजाब को तोड़ने की कोशिश की थी। 

ऑफिस के आसपास मोबाइल टावरों का लिया जा रहा डंप डाटा


सूत्रों के अनुसार स्टेट इंटेलिजैंस ऑफिर पर हुए अटैक को लेकर मोहाली पुलिस जांच में जुटी हुई है। उनका कहना है कि ऑफिस के आसपास मोबाइल टावरों का डंप डाटा लिया जा रहा है। लगभग 7000 मोबाइलों का डंट डाटा उठा कर जांच शुरू कर दी गई है। सूत्रों के अनुसार 7 बजे से लेकर 8 बजे तक डाटा खंगाला जा रहा है। 

कार से घूमते दिखे दो संदिग्ध

पुलिस को हमले के वक्त बाहर एक स्विफ्ट कार घूमती दिखी है। इसी कार से अटैक किए जाने की आशंका है। हमले के बाद यह कार वहां से गायब हो गई। उसमें 2 संदिग्ध होने की सूचना है। इसके लिए हेडक्वार्टर के सामने की पार्किंग का इस्तेमाल किए जाने की संभावना है।

इस हमले के बाद राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) भी एक्टिव हो गई है। NIA की एक टीम पंजाब इंटेलिजेंस ऑफिस आ रही है। वह भी इसकी जांच करेंगे। पुलिस की चिंता इसलिए ज्यादा है, क्योंकि ऐसे हथियार अफगानिस्तान में इस्तेमाल होते रहे हैं। इसके अलावा रूस-यूक्रेन जंग में भी इनके इस्तेमाल की बात कही जा रही है।

Related Links