संगीत गुरु धर्मेन्द्र कत्थक की रस्म पगड़ी 15 सितंबर को लक्ष्मी नारायण मंदिर में

रस्म पगड़ी लक्ष्मी नारायण मंदिर मॉडल हाउस में 15 सितंबर दिन बुधवार को दोपहर 1 से 2 बजे तक की जायेगी

रस्म पगड़ी लक्ष्मी नारायण मंदिर मॉडल हाउस में 15 सितंबर दिन बुधवार को दोपहर 1 से 2 बजे तक की जायेगी



चर्चित संगीत गुरु धर्मेन्द्र कत्थक का निधन 4 सितंबर को हो गया था।

वेब ख़बरिस्तान, जालंधर। चर्चित संगीत गुरु धर्मेन्द्र कत्थक का निधन 4 सितंबर को हो गया था। वे करीब 4 महीने से बीमार चल रहे थे। उनकी मौत की खबर से संगीत इंडस्ट्री को गहरा सदमा लगा है। उनकी रस्म पगड़ी लक्ष्मी नारायण मंदिर मॉडल हाउस में 15 सितंबर दिन बुधवार को दोपहर 1 से 2 बजे तक की जायेगी।

कई स्टूडेंट्स को दे चुके हैं संगीत की तालीम


धर्मेन्द्र कत्थक का नाम संगीत जगत में काफी मशहूर हैं। वे कई बड़े गायकों को संगीत की तालीम दे चुके हैं। उन्होंने अपनी बेटियों को भी शुरू से संगीत का वातावरण प्रदान किया। उनकी बेटियों काम्या, भूमिका और जिंदगी को संगीत जगत में सूफी सिस्टर्स के नाम से जाना जाता है।

दरअसल 4 सितंबर को सुबह नाश्ते के बाद उनकी तबियत खराब हो गई जिसके बाद उन्हें परिजन अस्पताल लेकर गए। वहां उनकी मौत हो गई।

Related Links