पंजाब सरकार ने जारी किया करप्शन पर एक्शन का रिपोर्ट कार्ड : मंत्री और IAS समेत 45 किये गिरफ्तार, रिश्वतखोरी मामले में पढ़िए पंजाब पुलिस किस नंबर पर

सीएम भगवंत मान ने एंटी करप्शन हेल्पलाइन नंबर जारी किया  था

सीएम भगवंत मान ने एंटी करप्शन हेल्पलाइन नंबर जारी किया था



पंजाब की आम आदमी पार्टी सरकार ने भ्रष्टाचार पर एक्शन का रिपोर्ट कार्ड जारी किया है।

वेब खबरिस्तान, चंडीगढ़। पंजाब की आम आदमी पार्टी सरकार ने भ्रष्टाचार पर एक्शन का रिपोर्ट कार्ड जारी किया है। इस रिपोर्ट के अनुसार सरकार बनने के बाद अब तक 28 केस दर्ज किए जा चुके हैं। इनमें 45 गिरफ्तारियां हो चुकी हैं। मगर 8 आरोपी अभी भी फरार हैं।

बता दें कि इनमें सबसे ज्यादा 22 केस माइनिंग और जंगलात विभाग के हैं। भ्रष्टाचार के 14 केस वाली पंजाब पुलिस दूसरे नंबर पर है।


करप्शन केस में पकड़े आरोपियों में सरकार के ही हेल्थ मिनिस्टर डॉ. विजय सिंगला, पूर्व कांग्रेसी मंत्री साधु सिंह धर्मसोत, पूर्व कांग्रेस MLA जोगिंदरपाल भोआ और IAS अफसर संजय पोपली शामिल हैं। इसके अलावा पूर्व मंत्री संगत सिंह गिलजियां की तलाश हो रही है। जबकि पूर्व मंत्री भारत भूषण आशू की विजिलेंस जांच की जा रही है।

पढ़िए सभी मामले - 

पंजाब सरकार में सेहत मंत्री डॉ. विजय सिंगला ने विभाग के हर काम में 1% कमीशन मांगा। विभाग के अफसर ने सीएम भगवंत मान को शिकायत कर दी। जिसके बाद सिंगला को कैबिनेट से बर्खास्त कर गिरफ्तार किया गया।पूर्व कांग्रेसी मंत्री साधु सिंह धर्मसोत ने एक पेड़ कटाई के बदले 500 रुपए की रिश्वत ली। करीब सवा करोड़ के घपले के बाद विजिलेंस ने उन्हें अमलोह स्थित घर से सोते वक्त ही गिरफ्तार कर लिया।भोआ से पूर्व कांग्रेसी MLA जोगिंदरपाल का नाम अवैध माइनिंग में सामने आया। पुलिस ने केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया।IAS अफसर संजय पोपली ने सीवरेज बोर्ड के CEO रहते 7.30 करोड़ के टेंडर अलॉटमेंट के बदले 7 लाख की रिश्वत मांगी। 3.50 लाख की पहली किश्त ले ली थी। दूसरी किश्त मांगने पर ठेकेदार ने शिकायत कर दी।

ASI और क्लर्क पर भी दर्ज हुए मामले 

24 मार्च को जालंधर तहसील की क्लर्क पर केस दर्ज हुआ। नौकरी के बदले 4 लाख रुपए मांगे थे।25 मार्च को गुंडा टैक्स वसूलने के केस में 17 लोग गिरफ्तार हुए। 1.65 करोड़ की रिकवरी हुई।तरनतारन में सब इंस्पेक्टर समेत 4 लोगों पर केस दर्ज हुआ। एसआई 5 हजार की रिश्वत मांग रहा था। प्रोडक्शन वारंट के प्रोसेस के लिए यह रिश्वत मांगी गई थी।संगरूर में ASI पर 10 हजार रुपए रिश्वत मांगने के आरोप लगे। ASI ने पूछताछ की बा कहकर चालान सबमिट करने के लिए रिश्वत मांगी थी।तरनतारन में ASI पर 20 हजार रुपए की रिश्वत मांगने के आरोप लगे। इसका 14 सेकेंड का वीडियो सामने आया था। किसी जांच के संबंध में उससे रिश्वत मांगी गई थी कि उसमें उसका नाम नहीं आएगा।नवांशहर में सरकारी बुक डिपो के कर्मचारियों पर पर्चा दर्ज हुआ। शिकायत करने वाले ने कहा कि उनके बेटे के नाम के करेक्शन के लिए 1700 रुपए लिए थे। उन्होंने बेटी का नाम ठीक करवाना था तो उससे 15 हजार रुपए मांगे जा रहे थे।फाजिल्का में पटवारी के असिस्टेंट पर कार्रवाई हुई। इंतकाल दर्ज करने के बदले 5 हजार की रिश्वत मांगी गई थी।एंटी करप्शन हेल्पलाइन जारी किया था 

सीएम भगवंत मान ने पंजाब में सरकार बनने के बाद एंटी करप्शन हेल्पलाइन नंबर 95012-00200 जारी किया है। कोई भी व्यक्ति इस पर रिश्वत मांगने या लेने की ऑडियो या वीडियो बनाकर भेज सकता है। 

Related Tags


punjab anti corruption helpline number cm bhagwant mann corruption cases in punjab

Related Links



webkhabristan