राजेवाल और चढ़ूनी ने बैठक में मिलकर बनाई तालमेल कमेटी, ये लिया गया फैसला

किसान संगठनों को इकट्ठा करने के लिए तालमेल कमेटी का गठन किया गया

किसान संगठनों को इकट्ठा करने के लिए तालमेल कमेटी का गठन किया गया



संयुक्त समाज मोर्चा की ओर से सभी किसान संगठनों को इकट्ठा करने के लिए तालमेल कमेटी का गठन किया गया है

वेब ख़बरिस्तान,चंडीगढ़। संयुक्त समाज मोर्चा की ओर से सभी किसान संगठनों को इकट्ठा करने के लिए तालमेल कमेटी का गठन किया गया है। यह कमेटी संयुक्त किसान मोर्चा के दौरान कंधे से कंधा मिलकार खड़े रहे संगठनों जो कि अब राजनीति में अलग हैं, से तालमेल बैठाएगी। यह कमेटी पंजाब के चुनावी मैदान में उतरे हरियाणा के किसान नेता गुरनाम सिंह चढ़ूनी के पार्टी के साथ भी तालमेल बैठाने में अपनी भूमिका निभाएंगे।

आपसी सहमती से होगा टिकटों का आवंटन

किसान भवन में बलवीर सिंह राजेवाल और गुरनाम सिंह चढ़ूनी के नेतृत्व में हुई बैठक में सर्वसम्मति से फैसला लिया गया है कि विधानसभा चुनाव से पहले राजेवाल धड़े और चढ़ूनी के दल से टिकटों का आवंटन तालमेल कमेटी के सहयोग से आपसी सहमति के साथ किया जाएगा।


उन्होंने बताया कि विधानसभा चुनाव को देखते हुए टिकटों के आवंटन, मैनिफेस्टो आदि को लेकर तीन कमेटियों का गठन किया गया है। टिकट के लिए आवेदन करना सबका लोकतांत्रिक अधिकार है। आए हुए आवेदनों में से अच्छे उम्मीदवारों को छंटनी कर निकालने के लिए स्क्रूटनी कमेटी बनाई गई है। इसके अलावा पार्लियामेंट्री बोर्ड का भी गठन किया गया है।

हमारा सभी का एक परिवार

बलबीर सिंह राजेवाल ने कहा कि पार्टी का हेड ऑफिस लुधियाना में ही होगा। चढ़ूनी के बारे में पूछे गए सवाल पर उनका कहना था कि हमारा सभी का एक परिवार है। यदि नहीं भी हैं तो समय के साथ फिर से एक बार इकट्ठा हो जाएंगे और पंजाब को भ्रष्ट राजनीती से मुक्ति दिलाएंगे। उन्होंने कहा कि संयुक्त समाज मोर्चा का गठन ही पंजाब को बचाने के लिए किया गया है।

मोर्चा चुनावों में पैसा, शराब और नशा बांट कर लोगों को भरमाने वालों के खिलाफ लड़ाई लड़ेगा। पॉलिटिकल करप्शन ने पंजाब को बर्बाद करके रख दिया है। चुनाव में गंठबंधन पर उन्होंने कहा कि अभी तक इस पर विचार नहीं किया है। आम आदमी पार्टी से गठबंधन चर्चाओं पर उन्होंने कहा कि इसमें कोई सच्चाई नहीं है। हमने किसी से भी गंठबंधन के लिए अप्रोच नहीं किया था।

यह सुरक्षा एजेंसियों की चूक थी

प्रधानमंत्री मोदी की सुरक्षा को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि यह सुरक्षा एजेंसियों की चूक थी। इनमें किसानों की कोई भूमिका नहीं थी। उन्होंने कहा कि इस मामले को लेकर जिस तरह से कड़वाहट पैदा करने वाली बातें भारतीय जनता पार्टी कर रही है यह ठीक नहीं है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि भारतीय जनता पार्टी पंजाब के लोगों को फूट डालकर तोड़ने की कोशिश कर रही है।

Related Links