महारैली में सुखबीर बादल ने कहा – मुख्यमंत्री चन्नी टेम्पररी इंचार्ज, आप-कांग्रेस का काम दिल्ली से होता है जबकि अकाली दल मां पार्टी

लखीमपुर खीरी कांड में मारे गए किसानों के लिए मौन रखा गया । फोटो - विनीत बजाज

लखीमपुर खीरी कांड में मारे गए किसानों के लिए मौन रखा गया । फोटो - विनीत बजाज



पहली चुनावी रैली में शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने कांग्रेस के खिलाफ हल्ला बोला।

वेब ख़बरिस्तान, जालंधर। आने वाले विधानसभा को लेकर जालंधर में डीएवी यूनिवर्सिटी के पास आयोजित पहली चुनावी रैली में शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने कांग्रेस के खिलाफ हल्ला बोला। सुखबीर बादल ने कहा कि कांग्रेस दलित समुदाय का वोट बैंक के तौर पर प्रयोग कर रही है और मजबूरी में ही उसने एक दलित को मुख्यमंत्री बनाया है। उन्होंने मख्यमंत्री चन्नी को टेंपरेरी इंचार्ज बताया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री से लेकर मंत्री तक दिल्ली से तय किए जा रहे हैं। जबकि अकाली दल यहाँ की मां पार्टी है और उनका फैसला सिर्फ पंजाबी ही करेंगे।

जालंधर में डीएवी यूनिवर्सिटी के पास आयोजित पहली चुनावी रैली में जुटे समर्थक। फोटो- विनीत बजाज 

बादल ने कहा – चन्नी को तो अपनी मर्जी से अफसर लगाने की भी छुट नहीं


सुखबीर बादल ने कहा - कांग्रेस हाईकमान की ओर से तो सुनील जाखड़ को मुख्यमंत्री बनाया जाना था मगर उनके हिंदू होने की वजह से नहीं बनाया। इसके बाद सुखजिंदर रंधावा का नाम आया इस पर नवजोत सिद्धू को लगा कि उनका पत्ता कट जाएगा। इसलिए टेंपरेरी तौर पर चन्नी को लगा दिया। कांग्रेस ने सुनियोजित तरीके से चरणजीत चन्नी को सीएम बनाया। इसके बहाने वो अनुसूचित जाति भाईचारे के वोट बटोरना चाहती थी। मैं पूछना चाहता हूं कि जब सीएम चन्नी को अपनी मर्जी से डीजीपी और एडवोकेट जनरल लगाने की छूट नहीं है तो फिर कांग्रेस किस मुंह से उनके नाम पर वोट मांगेगी।

इस दौरान साहिब काशीराम को श्रद्धांजलि दी गयी। फोटो- विनीत बजाज

सुखबीर बादल ने की ये घोषणाएं :-

राज्य में अकाली-भाजपा गठबंधन सरकार बनने पर दलित समुदाय से संबंधित आर्थिक तौर पर कमजोर लोगों को 5 लाख मकान बनाकर दिए जाएंगे। डॉ. बीआर अंबेडकर के नाम पर दोआबा में यूनिवर्सिटी बनाई जायेगी। कांशीराम के नाम पर मेडिकल कालेज बनाया जाएगा। हरेक वर्ग को 400 यूनिट तक बिजली फ्री मिलेगी। एससी-एसटी स्टूडेंट्स के लिए स्कालरशिप दोबारा शुरू की जायेगी ताकि जो लाख स्टूडेंट्स पढाई से वंचित रह गए हैं वे फिर से स्टडी शुरू कर सकें। प्राइवेट कॉलेज और यूनिवर्सिटी में सरकारी स्कूल के बच्चों के लिए 33 फीसदी सीटें रिज़र्व होंगी। सरकारी नौकरियों में महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण दिया जाएगा।   

सुखबीर बादल ने कहा कि कांग्रेस दलित समुदाय का वोट बैंक के तौर पर प्रयोग कर रही है। फोटो- विनीत बजाज

 

रैली में मौजूद अकाली दल और बीएसपी समर्थक। फोटो- विनीत बजाज

कांग्रेस ने दलित भाईचारे की इज्जत को चुनौती दी – गढ़ी

सुखबीर ने लखीमपुर खीरी कांड के दोषियों को सख्त सजा दिए जाने की भी मांग की। उन्होंने कहा कि किसानों के साथ धक्केशाही बर्दास्त नहीं की जाएगी। रैली को संबोधित करते हुए बहुजन समाज पार्टी पंजाब के अध्यक्ष जसवीर सिंह गढ़ी ने कहा कि कांग्रेस ने दलित भाईचारे की इज्जत को चुनौती दी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस प्रधान ने दलित मुख्यमंत्री का सरेआम अपमान किया है, जो निंदनीय है। बहुजन समाज कांग्रेस को इस अपमान का सही जवाब देगा। यहाँ दलजीत चीमा, पंजाब, चंडीगढ़ व हरियाणा के बीएसपी इंचार्ज रणधीर सिंह बेनीवाल, पंजाब बसपा के इंचार्ज विपन कुमार, पवन टीनू आदि मौजूद रहे। इस दौरान साहिब काशीराम को श्रद्धांजलि दी गयी।

Related Links