मंत्री रजिया और सिद्धू के सलाहकार की बहू बनी वक्फ बोर्ड की चेयरपर्सन,विवाद

मंत्री रजिया सुल्ताना और भारत भूषण आशु की मौजूदगी में चेयरपर्सन की कुर्सी उन्होंने संभाली

मंत्री रजिया सुल्ताना और भारत भूषण आशु की मौजूदगी में चेयरपर्सन की कुर्सी उन्होंने संभाली



जैनब अख्तर को पंजाब वक्फ बोर्ड का चेयरपर्सन बनाया गया

वेब ख़बरिस्तान,चंडीगढ़। कैबिनेट मंत्री रजिया सुल्ताना की बहू जैनब अख्तर को पंजाब वक्फ बोर्ड का चेयरपर्सन बनाया गया है। मंत्री सुल्ताना के पति पूर्व डीजीपी मुहमद मुस्तफा इस समय पंजाब कांग्रेस प्रधान नवजोत सिद्धू के सलाहकार हैं। ये नियुक्ति चर्चा में है। इससे पहले भी पंजाब के डिप्टी सीएम सुखजिंदर रंधावा के दामाद तरुणवीर लहल की नियुक्ति को लेकर सियासी घमासान हो चुका है। लहल को एडिशनल एडवोकेट जनरल नियुक्त किया गया है।

पद एक महीने से खाली था


पंजाब वक्फ बोर्ड के चेयरपर्सन का पद पिछले एक महीने से खाली था। जैनब अख्तर की नियुक्ति शनिवार यानी छुट्‌टी वाले दिन हुई। उनका नाम वक्फ बोर्ड के मेंबर एजाज आलम द्वारा पेश किया गया। इसका अब्दुल वाहिद ने समर्थन किया। इसके बाद उन्हें चेयरपर्सन नियुक्त कर दिया गया। मंत्री रजिया सुल्ताना और भारत भूषण आशु की मौजूदगी में चेयरपर्सन की कुर्सी उन्होंने संभाली।

कैप्टन अमरिंदर के समय भी हुआ बवाल

सरकार के करीबियों की ही बड़े पदों पर नियुक्ति को लेकर कैप्टन अमरिंदर सिंह के मुख्यमंत्री रहते हुए खूब बवाल हुआ। तब विधायक फतेहजंग बाजवा और राकेश पांडे के बेटे को सरकारी नौकरी का विरोध हुआ। इसके जवाब में बाजवा ने बेटे की नौकरी ठुकरा दी थी। इसके बाद कैप्टन सरकार ने अपनी कैबिनेट ने मंत्री गुरप्रीत कांगड़ के दामाद को सरकारी नौकरी दी। इसका भी खूब विरोध हुआ था।

Related Links