पंजाब कांग्रेस प्रधान बनने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने किया पहला ट्वीट - सबको साथ लेकर पूरा करेंगे मिशन 'जित्तेगा पंजाब'



अब सिद्धू ने पहला ट्वीट कर कहा कि वो कांग्रेस परिवार में सबको साथ लेकर चलेंगे।

वेब खबरिस्तान,जालंधर। रविवार देर रात पंजाब में प्रदेश कांग्रेस के नए प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू को बनाया गया। अब सिद्धू ने पहला ट्वीट कर कहा कि वो कांग्रेस परिवार में सबको साथ लेकर चलेंगे। 'जित्तेगा पंजाब' के मिशन को पूरा करेंगे। हाईकमान के 18 सूत्रीय एजेंडे और पंजाब मॉडल से लोगों के हाथ में पावर दी जाएगी। नवजोत सिंह सिद्धू ने लिखा कि अभी उनका सफ़र शुरू हुआ है। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को धन्यवाद करते हुए कहा कि कांग्रेस हाईकमान ने मुझ पर जो भरोसा जताया है, उसे पूरी तनदेही से पूरा करूंगा।

पढ़ें उनका ट्वीट : -

एक कांग्रेस कार्यकर्ता के रूप में, मेरे पिता ने घर छोड़ दिया। न केवल कुछ लोगों के लिए बल्कि सभी के लिए समृद्धि, सुविधाएं और स्वायत्तता साझा करने के लिए स्वतंत्रता संग्राम में भी उन्होंने भाग लिया। लेकिन उन्हें उनके देशभक्ति के कार्यों के लिए मौत की सजा सुनाई गई थी, जिसमें किंग्स एमनेस्टी भी शामिल है; रानी के जन्मदिन के मौके पर पर्चियां लगाकर इसे कैंसिल कर दिया गया। इसके बाद उन्होंने दशकों तक जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के रूप में कार्य किया। वे जिला कांग्रेस कमेटी के प्रधान, विधानसभा के सदस्य, विधान परिषद के सदस्य और पंजाब के एडवोकेट जनरल बने।


आज मेरा मिशन उस सपने को पूरा करना है और भारतीय कांग्रेस के इस अजेय गढ़ को और मजबूत करने के लिए अथक प्रयास करना है। मुझे यह महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपने के लिए मैं कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी का हृदय से आभारी हूं।

एक विनम्र कांग्रेस कार्यकर्ता के रूप में मैं मिशन जीतेगा पंजाब पूरा करने के लिए कांग्रेस परिवार के हर सदस्य के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करूंगा ताकि 'पंजाब मॉडल' और हाईकमान के 18 सूत्रीय एजेंडे के माध्यम से लोगों को लोगों की शक्ति वापस मिल सके। मेरी यात्रा अभी शुरू हुई है !!

सिद्धू के ट्वीट और बयान भूल जाएं कैप्टन

हालाँकि इस सबके बीच अभी तक सिद्धू की कैप्टन अमरिंदर सिंह से सुलह नहीं हुई है। कैप्टन अमरिंदर सिंह नवजोत सिद्धू से उनके पंजाब कांग्रेस प्रधान बनने से पहले ट्वीट और इंटरव्यू में सरकार पर लगाए आरोपों को लेकर सार्वजनिक माफी की मांग पर अड़े हुए हैं। लेकिन कुछ मंत्री कैप्टन को सलाह दे रहे हैं कि जब वो सांसद प्रताप सिंह बाजवा के बयान व हाईकमान को लिखी चिटि्ठयों को भूल सकते हैं तो फिर सिद्धू के ट्वीट व बयान भी भूल जाएं।

Related Links