सिद्धू मूसेवाला मर्डर केस में फिर जुड़े राजस्थान से तार,फंडिंग-हथियार मुहैया करवाए गए, पढ़िए कहाँ हुई हत्या की प्लानिंग



मूसेवाला हत्याकांड में एक बार फिर से राजस्थान कनेक्शन सामने आ रहा है

वेब खबरिस्तान,लुधियाना। सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में एक बार फिर से राजस्थान कनेक्शन सामने आ रहा है। अभी तक की जांच में पंजाब पुलिस को पता चला है कि मूसेवाला की हत्या करने में आर्थिक मदद राजस्थान से आई थी। हथियार भी वहीं से लिए गए थे। ऐसा सुराग मिलने के बाद मानसा पुलिस की टीमें राजस्थान व पश्चिमी बंगाल गई हैं, लेकिन मानसा पुलिस इस बात की पुष्टि नहीं कर रही।


जानकारी मुताबिक़ नेपाल-पश्चिम बंगाल सीमा से गिरफ्तार किए गए शूटर दीपक मुंडी ने पूछताछ में खुलासा किया है कि गैंगस्टरों को आर्थिक मदद राजस्थान से और पश्चिम बंगाल से मिली है। 100 दिन से अधिक समय तक जिन लोगों ने हत्यारोपियों को आश्रय दिया, पुलिस अब उन्हें बेनकाब करने में जुटी है। नेपाल बॉर्डर से दीपक मुंडी, कपिल पंडित और राजेन्द्र जोकर को पकड़ा।

मर्डर का कनेक्शन राजस्थान के शेखावाटी इलाके से निकल कर सामने आ रहा है। मर्डर की पूरी प्लानिंग सीकर में की गई थी। मर्डर में शामिल 6 बदमाशों में से 5 पंजाब और 1 सीकर का था। इसके अलावा वारदात में इस्तेमाल गाड़ी भी सीकर की थी। SIT की टीमें राजस्थान से कनेक्शन की जांच में जुटी हैं। शुरुआती जांच में सामने आया है कि मर्डर की प्लानिंग में सीकर के कई बदमाश शामिल थे।

राजस्थान के दो गैंगस्टर पहले ही रडार पर

इसी मामले में राजस्थान के गैंगस्टर रोहित गुदारा और अरशद खान का नाम भी सामने आया हुआ है। रोहित गुदारा मूसेवाला हत्याकांड के बाद से फरार है। वहीं हिस्ट्रीशीटर अरशद खान को पंजाब पुलिस 2 महीने पहले चुरू की जेल से चंडीगढ़ लाई थी।

Related Tags


Related Links


webkhabristan