सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में पुलिस को बड़ी सफलता, दो शूटर गिरफ्तार, हथियार और विस्फोटक भी हुआ बरामद

दोनों आरोपी वही शूटर हैं जिन्होंने मूसेवाला पर गोलियां चलाई थीं

दोनों आरोपी वही शूटर हैं जिन्होंने मूसेवाला पर गोलियां चलाई थीं



मूसेवाला की सनसनीखेज हत्या के मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को बड़ी सफलता हाथ लगी है

वेब खबरिस्तान। पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या के मामले में शार्प शूटर प्रियवर्त फौजी और कशिश को दिल्ली पुलिस की ओर से गिरफ्तार कर लिया गया है। यह दोनों अपने तीसरे साथी केशव के साथ गुजरात के मुंद्रा पोर्ट के नजदीक एक किराए के मकान में छुपे हुए थे।

दिल्ली पुलिस ने खुलासा किया कि मूसेवाला की हत्या में कुल 6 शार्प शूटर्स शामिल थे। जो कोरोला और बोलेरो में सवार होकर आए थे। अगर हथियार फेल हो जाते या मौके पर कोई खतरा होता तो शार्प शूटर्स ने मूसेवाला पर ग्रेनेड अटैक की भी प्लानिंग कर रखी थी। मूसेवाला की हत्या के बाद इन शार्प शूटर्स ने गोल्डी बराड़ को कॉल कर कहा कि काम हो गया।

यह हुआ खुलासा 


दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल के स्पेशल पुलिस कमिश्नर के एचजीएस धालीवाल ने बताया कि मूसेवाला की हत्या को अंजाम देने के लिए 2 मॉड्यूल एक्टिव थे। दोनों कनाडा बैठे गैंगस्टर गोल्डी बराड़ के टच में थे। बोलेरो को कशिश चला रहा था। उस टीम का हेड प्रियवर्त फौजी था। उसके साथ अंकित सेरसा और दीपक मुंडी शामिल था। कोरोला गाड़ी को जगरूप रूपा चला रहा था। मनप्रीत मन्नू उसके साथ बैठा हुआ था।

पहले मोगा के शार्प शूटर मनप्रीत मन्नू ने AK47 से मूसेवाला पर फायर किया। जिसकी गोली मूसेवाला को लगी। इससे मूसेवाला की थार वहीं रुक गई। फिर यह कोरोला से उतरे और बोलेरो से भी 4 शूटर उतरे। सभी 6 शार्प शूटर ने फायरिंग की। जब इन्हें पता चल गया कि अब मूसेवाला बच नहीं पाएगा तो यह वहां से फरार हो गए।

वारदात के बाद मन्नू और रूपा अलग चले गए 

वारदात के बाद मन्नू और रूपा अलग चले गए। बाकी 4 लोग बोलेरो में अलग चले गए। इन्हें कुछ किलोमीटर के बाद केशव ने अपनी गाड़ी में बिठाया। वहां से यह फतेहाबाद पहुंचे। कुछ दिन वहां रुकने के बाद आगे निकले। यह कई जगहों पर छुपते रहे। 19 जून को सुबह के वक्त दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इन्हें खारी मिट्‌ठी रोड मुंद्रा पोर्ट के पास से गिरफ्तार किया है। उन्होंने किसी लोकल डीलर के जरिए किराए का मकान लिया हुआ था।दिल्ली पुलिस के मुताबिक इन आरोपियों से 8 हाई एक्सप्लोसिव ग्रेनेड, अंडर बैरेल ग्रेनेड लांचर बरामद किया गया है। इसे AK47 पर भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके अलावा एक असॉल्ट राइफल, 3 पिस्टल, 36 राउंड कारतूस, एक पार्ट AK सीरीज असॉल्ट राइफल का मिला है।

29 मई को की थी मूसेवाला की हत्या 

पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की 29 मई को पंजाब के मानसा जिले में अज्ञात हमलावरों द्वारा गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी। यह कथित तौर पर लॉरेंस बिश्नोई गैंग से जुड़े थे।

मूसेवाला हत्याकांड का मुख्य आरोपी गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई  इन दिनों पंजाब पुलिस की गिरफ्त में है। पंजाब पुलिस 14 जून को लॉरेंस को गिरफ्तार कर एक दिन की ट्रांजिट रिमांड पर पंजाब ले गई थी। पंजाब पुलिस ने दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में दलील दी थी कि इस मामले की जांच के दौरान पता चला है कि लॉरेंस बिश्नोई सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड का मुख्य साजिशकर्ता है और उससे हिरासत में पूछताछ जरूरी है।  

Related Tags


sidhu moosewala rip sidhu moosewala justice for sidhu moosewala lawrence bishnoi punjab police cm bhagwant mann sidhu moosewala songs sidhu moosewala family

Related Links



webkhabristan