मनीष तिवारी का एक और ट्वीट- दलित, हिंदू या ओबीसी पंजाब का मुख्यमंत्री क्यों नहीं बन सकता?



पंजाब कांग्रेस प्रधान पर नवजोत सिंह सिद्धू की नियुक्ति को लेकर मुख्यमंत्री  कैप्टन अमरिंदर सिंह से चल रहे विवाद के बीच मनीष तिवारी ने एक और ट्वीट किया है

वेब खबरिस्तान,जालंधर। पंजाब कांग्रेस प्रधान पर नवजोत सिंह सिद्धू की नियुक्ति को लेकर मुख्यमंत्री  कैप्टन अमरिंदर सिंह से चल रहे विवाद के बीच मनीष तिवारी ने एक और ट्वीट किया है। उन्होंने ट्वीट कर पूछा -पंजाब में दलित, हिंदू या फिर ओबीसी मुख्यमंत्री क्यों नहीं बन सकता? उन्होंने कहा कि योग्यता और सामाजिक बराबरी में संतुलन जरूरी है।

आरपी सिंह के ट्वीट का जवाब दिया


मनीष तिवारी ने यह ट्वीट बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता आरपी सिंह के उस ट्वीट के जवाब में किया है, जिसमें सिंह ने पूछा था कि पंजाब में ग्रामीण बैकग्राउंड से मजहबी सिख सीएम क्यों नहीं बन सकता? कांग्रेस, बीजेपी या अकाली दल में से देखते हैं कि कौन पंजाब को शेड्यूल कास्ट कम्युनिटी से CM देता है।

पहले की थी हिन्दू प्रधान बनाने की वकालत

मनीष तिवारी ने इससे पहले शुक्रवार को ट्वीट कर पंजाब में हिंदू चेहरे को प्रधान बनाने की वकालत की थी। उन्होंने इशारों में मुख्यमंत्री और पार्टी प्रधान की कुर्सी पर सिख चेहरों को देने पर एतराज जताते हुए आंकड़े देकर बताया कि हिंदुओं की आबादी पंजाब में दूसरे नंबर पर है। ऐसे में उनको भी प्रतिनिधित्व देना जरूरी है। दरअसल उन्होंने कैप्टन अमरिंदर सिंह के मुख्यमंत्री रहते हुए नवजोत सिद्धू को पंजाब कांग्रेस का प्रधान बनाने का इशारों में विरोध किया था। वे पंजाब के श्री आनंदपुर साहिब से सांसद हैं और राज्य के सबसे बड़े शहर लुधियाना में भी उनके खासे समर्थक हैं।

Related Links