पंजाब सरकार ने इन सरकारी मुलाजिमों की छुट्टी के बदले नियम



अब कोरोना के कारण होम आईसोलेशन के लिए मिलने वाली छुट्टी इतने दिन की

वेब ख़बरिस्तान। पंजाब सरकार की ओर से राष्ट्रीय सेहत मिशन सेहत और परिवार भलाई विभाग के अधीन तैनात सरकारी मुलाजिमों की छुट्टियों के नियमों में बदलाव किया गया है। एनएचएम के मिशन डायरेक्टर आईएएस कुमार राहुल की ओर से जारी आदेश के मुताबिक कोविड महामारी के चलते सरकारी मुलाजिमों को छुट्टियों के नियमों में बदलाव किया है। ये फैसला पंजाब सरकार की ओर से होम आईसोलेशन के नियम बदलने के बाद लिया गया है। अब अगर कोई सरकारी मुलाजिम कोविड पाजीटिव आता है तो उसे सात दिन की क्वारंटाइन लीव तनख्वाह के साथ दी जाएगी। ये छुट्टी मेडिकल लीव और एमरजेंसी लीव से अलग मिलेगी।


अगर किसी कर्मचारी के का करीबी रिश्तेदार जैसे बच्चे, पत्नी, मां, पिता (अगर वे मुलाजिम पर डिपेंड और साथ रहते हों) पाजीटिव आते हैं तो मुलाजिम के लिए तुरंत अपना टेस्ट करवाना लाजमी होगा। अगर रिपोर्ट नेगेटिव आती है तो कर्मचारी को दफ्तर हाजिर होना होगा। ऐसी सूरत में मुलाजिम को ज्यादा से ज्यादा दो दिन की छुट्टी विद सैलेरी मिलेगी। ये छुट्टी भी मेडिकल लीव और एमरजेंसी लीव से अलग मिलेगी।

जिस कर्मचारी में बुखार, खांसी, जुकाम या कोविड के लक्षण पाए जाते हैं उसके लिए कोविड टेस्ट करवाना लाजमी होगा। कर्मचारी की ओर से इस सबंधी दफ्तर को सूचित करना होगा। जो मुलाजिम अपना कोविड टेस्ट करवाएंगे वे रिपोर्ट आने तक दफ्तर नहीं आ सकेंगे। ये छुट्टी भी तनख्वाह समेत होगी और मेडिकल लीव और एमरजेंसी लीव से अलग होगी।

Related Links