कई दिन के कलेश के बाद सोनिया ने सिद्धू को बनाया पंजाब का कैप्टन



संगत सिंह गिलजियां, सुखविंदर सिंह डैनी, पवन गोयल और कुलजीत नागरा को कार्यकारी अध्यक्ष

वेब ख़बरिस्तान। पिछले कई महीने से अपनी पार्टी के मुख्यमंत्री की नाक में दम करने वाले विधायक नवजोत सिंह सिद्धू को कांग्रेस पार्टी का प्रदेश प्रधान बना दिया गया है। पिछले करीब पचास दिन से माथापच्ची कर रही कांग्रेस हाईकमान ने आखिर ये फैसला ले लिया। 

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की ओर से सिद्धू के विरोध की खबरें आती रहीं मगर कैप्टन ने खुद कोई बयान नहीं दिया।  सिद्धू के साथ दोआबा से पिछड़े वर्ग से संगत सिंह गिलजियां, माझा से दलित वर्ग से सुखविंदर सिंह डैनी, मालवा से हिंदू सवर्ण वर्ग से पवन गोयल और सिख वर्ग से कुलजीत सिंह नागरा को कार्यकारी प्रधान बनाया गया है। 


ऐसी खबरें हैं कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने फैसले से पहले नवजोत सिंह सिद्धू का विरोध करने वाले सांसदों और नेताओं को फोन किए और सिद्धू को नियुक्ती की बात कही। बीते दिन कैप्टन खेमे से खबर निकली थी कि कैप्टन सिद्धू के साथ तभी चलेंगे जब वह सार्वजनिक रूप से माफी मांगेंगे। ये भी हो सकता है कि एक दो दिन में सिद्धू कैप्टन के पास जाएं और अपने अंदाज में माफी भी मांग लें। 

देर शाम हुआ ऐलान

देर शाम पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने सिद्धू को अध्यक्ष बनाने का आधिकारिक ऐलान किया। पार्टी ने मालवा से हिंदू सवर्ण वर्ग और सिख चेहरे को कमान सौंपी है। हिंदू सवर्ण वर्ग से फरीदकोट प्लानिंग बोर्ड के टकसाली कांग्रेसी पवन गोयल और सिख वर्ग से फतेहगढ़ साहिब से कुलजीत सिंह नागरा शामिल हैं। नागरा सिक्कम, नागालैंड और त्रिपुरा के कांग्रेस प्रदेश प्रभारी भी थे। 

यूथ नेता सुखविंदर सिंह डैनी को दलित वर्ग से माझा क्षेत्र का प्रतिनिध्व सौंपा गया है। डैनी जंडियाला से विधायक हैं। उन्हें पिछली बार राहुल गांधी के कोटे से विधानसभा का टिकट मिला था। वहीं, पिछड़े वर्ग से उड़मुड़ के विधायक संगत सिंह गिलजियां को कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया है।

Related Links