टी-20 वर्ल्ड कप के लिए धोनी-शास्त्री-विराट की तिकड़ी, अब तक के स्टेटिस्टिक्स क्या कहते हैं इनके काम के बारे, पढ़िए

विराट कोहली, महेंद्र सिंह धोनी और रवि शास्त्री की तिकड़ी एक साथ काम करेगी

विराट कोहली, महेंद्र सिंह धोनी और रवि शास्त्री की तिकड़ी एक साथ काम करेगी



इसमें विराट कोहली कप्तान, रवि शास्त्री कोच और महेंद्र सिंह धोनी बतौर मेंटोर अपनी जिम्मेदारी निभाएंगे।

वेब ख़बरिस्तान,नई दिल्ली। टी-20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम की घोषणा कर दी गई है। इसमें विराट कोहली कप्तान, रवि शास्त्री कोच और महेंद्र सिंह धोनी बतौर मेंटोर अपनी जिम्मेदारी निभाएंगे। मगर यह पहली बार नहीं है जब किसी बड़े आईसीसी टूर्नामेंट में विराट कोहली, महेंद्र सिंह धोनी और रवि शास्त्री की तिकड़ी एक साथ काम करेगी। इससे पहले 2015 और 2019 में वनडे वर्ल्ड कप और 2016 में टी-20 वर्ल्ड कप में भी ये तीनों एक साथ शामिल थे। मगर आंकड़ों के अनुसार इन सभी टूर्नामेंट में भारतीय टीम चैंपियन नहीं बन पाई।

2015 में रवि शास्त्री थे टीम डायरेक्टर

महेंद्र सिंह धोनी, विराट कोहली और रवि शास्त्री पहली बार 2015 में ऑस्ट्रेलिया में हुए वनडे वर्ल्ड में साथ आये थे। उस समय महेंद्र सिंह धोनी टीम के कप्तान थे और विराट कोहली टीम के सबसे अहम बल्लेबाज थे। रवि शास्त्री टीम डायरेक्टर के तौर पर मौजूद थे। इस टूर्नामेंट में भारतीय टीम सेमीफाइनल तक पहुंची लेकिन अंतिम चार के मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 95 रनों से हरा दिया।


2016 टी-20 वर्ल्ड कप में धोनी कप्तान, विराट उप कप्तान और शास्त्री टीम डायरेक्टर थे। इसमें भारतीय टीम सेमीफाइनल से आगे नहीं बढ़ पाई। सेमीफाइनल मुकाबले में वेस्टइंडीज ने भारत को 2 गेंद बाकी रहते सात विकेट से हरा दिया।

2019 में न्यूजीलैंड से हारा भारत

महेंद्र सिंह धोनी,रवि शास्त्री और विराट कोहली आखिरी बार एक साथ 2019 में इंग्लैंड में हुए वनडे वर्ल्ड कप में एक साथ आये। इस बार विराट कोहली कप्तान, धोनी सीनियर बल्लेबाज/विकेटकीपर और रवि शास्त्री कोच थे। भारत ने लीग मैचों में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए 9 में से 7 मुकाबले जीते और पहले स्थान पर रहते हुए सेमीफाइनल के लिए क्वालिफाई किया। मगर अंतिम-4 के मुकाबले में भारत को न्यूजीलैंड ने 18 रनों से हरा दिया।

महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में  6 वर्ल्ड कप हारे भी

महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में भारत को 6 वर्ल्ड कप में हार भी झेलनी पड़ी है। इनमें पांच टी-20 वर्ल्ड कप (2009, 2010, 2012, 2014 और 2016) और 1 वनडे वर्ल्ड कप (2015) शामिल है। भारतीय टीम पिछले 8 साल से कोई भी आईसीसी खिताब नहीं जीत पाया है। भारत को आखिरी कामयाबी 2013 में हुई ICC चैंपियंस ट्रॉफी में मिली थी।

Related Links